12th Physics |12th Physics Objective Questions |12th Objective Questions 2022 |Objective Questions 12th BiharBoard |12th Physics Questions Answer 2022 |12th Physics Objective Questions with Answer 2022

1. किसी कण का संवेग दोगुना कर दिया जाता है इसकी तरंग लंबाई कितनी गुनी हो जाएगी ?

(A) 1/2

(B) 2

(C) 3

(D) √2

Ans (A)

2. तरंगदैर्घ्य वाले फोटॉन उर्जा है-

(A) hcλ

(B) hc/λ

(C) hλ/c

(D) λ/hc

Ans (B)

3. जब प्रकाश एक माध्यम से दूसरे माध्यम में प्रवेश करता है तो कौन सी राशि परिवर्तित नहीं होती है ?

(A) तरंगदैर्घ्य

(B) आवृत्ति

(C) चाल

(D) आयाम

Ans (B)

4. विकिरण व्यवहार करती है –

(A) तरंग की तरह

(B) कण की तरह

(C) (a) और (b) दोनों की तरह

(D)  इनमें से कोई नहीं

Ans (C)

5. आइंस्टीन ने प्रकाश विद्युत प्रभाव की व्याख्या किस सिद्धांत पर की –

(A) बोर के परमाणु सिद्धांत पर

(B) प्लांक के क्वांटम सिद्धांत पर

(C) रदरफोर्ड के तरबूज सिद्धांत मॉडल पर

(D) इनमें से कोई नहीं

Ans (B)

6. एक ही स्रोत से उत्सर्जित सभी फोटोनों का निर्वात में वेग होता है –

(A) समान

(B) असमान

(C) शून्य

(D) इनमें से कोई नहीं

Ans (A)

7. एक फोटोन, जिसकी ऊर्जा 26 इलेक्ट्रॉन-वोल्ट है। तो इसकी तरंगदैर्ध्य होगी –

(A) 6.6 × 10-8 मीटर

(B) 7.7 × 10-8 मीटर

(C) 8.8 × 10-8 मीटर

(D) 9.9 × 10-8 मीटर

Ans (B)

8. आधुनिक मत के अनुसार प्रकाश की प्रकृति है –

(A) केवल कण प्रकृति

(B) केवल तरंग प्रकृति

(C) कण और तरंग दोनों प्रकृति

(D) इनमें से कोई नहीं

Ans (C)

9. एक इलेक्ट्रॉन जिसकी गतिज ऊर्जा 120 इलेक्ट्रॉन-वोल्ट है। तो इसकी डी-ब्रोग्ली तरंगदैर्ध्य होगी –

(A) 1.95 Å

(B) 1.2 Å

(C) 3.5 Å

(D) 1.2 Å

Ans (D)

10. विद्युत चुंबकीय विकिरण की तरंगदैर्ध्य इसके फोटोन की तरंगदैर्ध्य के होती है

(A) बराबर

(B) विपरीत

(C) कभी बराबर कभी विपरीत

(D) शून्य

Ans (A)

11. धात्विक पृष्ठ से इलेक्ट्रॉन उत्सर्जित तब होते हैं जब पृष्ठ पर आपतित प्रकाश की आवृत्ति –

(A) देहली आवृत्ति से कम हो

(B) देहली आवृत्ति की आधी हो

(C) देहली आवृत्ति से अधिक हो

(D) आवृत्ति का कोई प्रभाव नहीं है

Ans (C)

12. एक प्रकाश विद्युत पदार्थ का कार्य फलन 3 इलेक्ट्रॉन-वोल्ट है। तो इस पदार्थ की देहली तरंगदैर्ध्य होगी –

(A) 3.75 × 1023 मीटर

(B) 6.6 × 1010 मीटर

(C) 9.9 × 1038 मीटर

(D) शून्य

Ans (A)

13. यदि एक मुक्त इलेक्ट्रॉन की गतिज ऊर्जा दुगनी हो जाये तो डी.-ब्रोग्ली तरंगदैर्ध्य में बदलाव होगा :

(A) 1 / √2

(B) √2

(C) 1 / 2

(D) 2

Ans (A)

14. V आवृत्ति वाले फोटोन के साथ संवेग जुड़ा हुआ है। यदि प्रकाशका वेग c हो तो संवेग होगा।

(A) hV/c2

(B) hV/c

(C) V/c

(D) hVc

Ans (B)

15. यदि किसी धातु के सतह पर आपतित होने वाले फोटॉन की आवृत्तिदुगुना कर दिया जाय. तो उत्सर्जित इलेक्ट्रॉन की अधिकतम गतिज ऊर्जा हो जाएगी:

(A) दुगुना

(B) दुगुना से ज्यादा

(C) नहीं बदलेगा

(D) इनमें से कोई नहीं

Ans (B)

16. फोटो सेल आधारित है।

(A) प्रकाश-विद्युत् प्रभाव पर

(B) धारा के रासायनिक प्रभाव पर

(C) धारा के चुम्बकीय प्रभाव पर

(D) विद्युत्-चुम्बकीय प्रेरण पर

Ans (A)

17. यदि विराम से एक इलेक्ट्रॉन को 1 वोल्ट विभवांतर आरोपित करत्वरित किया जाए तो उसकी गतिज ऊर्जा होगी

(A) 1.6 x 10-19 जूल

(B) 7.6 x 10-19 जूल

(C) 1.6 x 10-13 जूल

(D) इनमें से कोई नहीं

Ans (A)

18. एक इलेक्ट्रॉन एवं एक फोटॉन की तरंग लंबाई 00 nm हैं। इनमें किसके संवेग का मान अधिक है?

(A) इलेक्ट्रॉन

(B) फोटॉन

(C) दोनों के संवेगों के मान तुल्य हैं

(D) इनमें से कोई नहीं

Ans (C)

19. एक फोटॉन की ऊर्जा 10 keV है। यह विद्युत चुम्बकीय वर्णक्रम केकिस भाग में स्थित होगा? 

(A) X-rays

(B) y-rays

(C) microwave

(D) इनमें से कोई नहीं

Ans (A)

20. प्रकाश-विद्युत् प्रभाव में उत्सर्जित प्रकाश इलेक्ट्रॉनों की गतिज ऊर्जा समानुपाती होती है

(A) आपतित प्रकाश की आवृत्ति के वर्ग के

(B) आपतित प्रकाश की आवृत्ति के

(C) आपतित प्रकाश के तरंगदैर्घ्य के

(D) आपतित प्रकाश के तरंगदैर्घ्य के वेग के

Ans (B)

21. कार्य-फलन आवश्यक ऊर्जा है

(A) परमाणु को उत्तेजित करने के लिए

(B) एक्स-किरणों को उत्पन्न करने के लिए

(C) एक इलेक्ट्रॉन को सतह से ठीक बाहर निकालने के लिए

(D) परमाणु की छानबीन के लिए

Ans (C)

22. दिए हुए किस धातु का न्यूनतम कार्य-फलन है? 

(A) सोडियम

(B) बेरियम

(C) लोहा

(D) ताँबा

Ans (A)

23. प्रकाश-विद्युत् में आपतित प्रकाश की ऐशोल्ड (देहली) आवृत्ति हैजिस पर

(A) प्रकाश इलेक्ट्रॉन मात्र उत्सर्जित होते हैं

(B) प्रकाश इलेक्ट्रॉन का वेग महत्तम होता है

(C) इलेक्ट्रॉन के उत्सर्जन की दर न्यूनतम होती है

(D) इनमें से कोई नहीं

Ans (A)

24. द्रव्य तरंग की परिकल्पना किया –

(A) प्लांक ने

(B) टॉमसन ने

(C) आइंस्टीन ने

(D) डी-ब्रॉग्ली ने

Ans (D)

25. डी-ब्रॉग्ली तरंगदैर्घ्य है

(A) λ= h / mv

(B) λ= hmv

(C) λ= hv

(D) λ = mc2 / v

Ans (A)

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *